शहर-अजीमाबाद's image
1 min read

शहर-अजीमाबाद

Rajkamal ChoudharyRajkamal Choudhary
Share0 Bookmarks 201 Reads

गोलघर चावल का गोदाम था,
जिसमें मुँडेरे से शहर मीनिएचर जंगल
दिखता है। कॉफ़ी हाउस पत्रकारों केलिए सुरक्षित।
जातिवाद के ख़िलाफ़ ज़ोरदार भाषण।
कत्थक-नाच वाली लड़कियों से इन्ट्रोडक्शन।
सचिवालय से कूदकर रामनाथ या श्यामनाथ मर गया।
लैम्प-पोस्टों की पीली रोशनी संक्रामक है।
गर्भवती हो गयी हैं अस्पताल की सारी नर्सें।
किसी को भी नहीं स्मरण है अपना नाम।
कल आलमगंज मस्जिद में एक बम फूटा।
मन्त्री-उपमन्त्री चार बजे सुबह घूमने निकलते हैं।
अगम कूप से निकली है राधा-किशन की मूरत।
गाँधी मैदान में सोना मना है। गंगा-नदी बहती है।
गंगा नदी बहती है। और, सात नवयुवक विधान-भवन
के सामने अब तक ब्रोंज की चट्टान बने हुए खड़े हैं।

No posts

No posts

No posts

No posts

No posts