उसका गीत-विधान रहेगा's image
1 min read

उसका गीत-विधान रहेगा

Gopaldas NeerajGopaldas Neeraj
0 Bookmarks 229 Reads1 Likes

जितना कम सामान रहेगा
उतना सफ़र आसान रहेगा

जितनी भारी गठरी होगी
उतना तू हैरान रहेगा

उससे मिलना नामुमक़िन है
जब तक ख़ुद का ध्यान रहेगा

हाथ मिलें और दिल न मिलें
ऐसे में नुक़सान रहेगा

जब तक मन्दिर और मस्जिद हैं
मुश्क़िल में इन्सान रहेगा

‘नीरज’ तो कल यहाँ न होगा
उसका गीत-विधान रहेगा

 

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts