जताए जाते हैं एहसान भी सता के मुझे's image
084

जताए जाते हैं एहसान भी सता के मुझे

ShareBookmarks

जताए जाते हैं एहसान भी सता के मुझे

सिखा रहे हैं वो गोया चलन वफ़ा के मुझे

रखा न हम को कहीं का तिरी मोहब्बत ने

वो कह रहे हैं अदू से सुना सुना के मुझे

तमीज़-ए-इश्क़-ओ-हवस पेशतर न थी उन को

वो और हो गए मग़रूर आज़मा के मुझे

शब-ए-विसाल अदाएँ भी हैं जफ़ाएँ भी

दिखाए जाते हैं अंदाज़ किस बला के मुझे

जो सैर देखनी मंज़ूर है तुम्हें 'बेख़ुद'

भिड़ा दो हज़रत-ए-ज़ाहिद से मय पिला के मुझे

 

Read More! Learn More!

Sootradhar