नया आदमी's image
1 min read

नया आदमी

Ashok ChakradharAshok Chakradhar
0 Bookmarks 225 Reads1 Likes


डॉक्टर बोला-
दूसरों की तरह
क्यों नहीं जीते हो,
इतनी क्यों पीते हो?

वे बोले-
मैं तो दूसरों से भी
अच्छी तरह जीता हूँ,
सिर्फ़ एक पैग पीता हूँ।
एक पैग लेते ही
मैं नया आदमी
हो जाता हूँ,
फिर बाकी सारी बोतल
उस नए आदमी को ही
पिलाता हूँ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts