हम जौर भी सह लेंगे मगर डर है तो यह है's image
088

हम जौर भी सह लेंगे मगर डर है तो यह है

ShareBookmarks

हम जौर भी सह लेंगे मगर डर है तो यह है
ज़ालिम को कभी फूलते-फलते नहीं देखा

अहबाब की यह शाने-हरीफ़ाना सलामत
दुश्मन को भी यूं ज़हर उगलते नहीं देखा

वोह राह सुझाते हैं, हमें हज़रते-रहबर
जिस राह पै उनको कभी चलते नहीं देखा

Read More! Learn More!

Sootradhar