मानवतावाद's image
Share0 Bookmarks 63487 Reads0 Likes
हे ईश्वर अब तेरा भरोसा,
हो ना मुझसे कुछ ऐसा-वैसा।
देना सदा विचार सकारात्मक,
दूर करना मानसिकता नकारात्मक।
मैं करूं सदा सबका सम्मान,
छोटे-बड़े सभी देेे मुझे मान।
ईमानदारी हो नीति मेेरा,
इंसानियत लगे मुझे सबसे प्यारा।
भेद-भाव नहीं जाति-धर्म का,
दास बनूं मैं सदा कर्म का।
लोभ-मोह नहीं किसी चीज की,
सेवा करूं सदा देश की।
दुखियो

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts