संभावना's image
Share0 Bookmarks 62690 Reads0 Likes

संभावना


लंबी प्रतीक्षा के बाद..

निकला हो सूरज,

गुनगुनी सी धूप में,

मैं बैठी होऊं छत पर..

चुपचाप पलके मूंदे,

कोई पीछे से आ

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts