बचपन का प्यार's image
73K

बचपन का प्यार

प्यार की गहराई ना समझते हुए भी,
 गहराई से प्यार कर पाना,
फ़ितरत हैं हर प्रेमी की, पहले प्यार पर समर्पित हों जाना,
जिसे बचपन का प्यार कहते हों तुम, बचकाना वो होता नहीं,
जिस शिद्दत से वो किया जाता हैं, उस शिद्दत की सीमा नहीं,
उस एहसास में जितनी नादानी हैं, उतनी ही सच्चाई भी,
जितनी ज़िद हैं उसे पाने की, उतनी कोशिशों में गहराई भी,
जितना आसान समझते हों तुम, उनके बीच आकर्षण, 
उतना मुश्किल हैं निभाना, देखकर हकीक़
Read More! Earn More! Learn More!