नचिकेता का यमपुर प्रयाण's image
75K

नचिकेता का यमपुर प्रयाण

ऋषि उद्दालक कर रहे मोहमाया त्याग
आया समय ब्राह्मणों को देना था दान
कर संकल्प प्रारंभ किया सर्वमेध यज्ञ
यज्ञ समाप्ति पर कर दिया सर्वस्व दान
 
दस वर्षीय पुत्र के लिए जागा पुत्रमोह
अच्छी गाये रख अदुग्धा वृद्ध देदी दान
नचिकेता ने देखा व्यर्थ जाता यज्ञफल
प्रण है पिता को बचाए न हो यह पाप
 
नचिकेता बोला किसे करेंगे मेरा दान
नचिकेता का प्रश्न टालते रहे ऋषिवर
तीसरी बार पूछा ऋषि बोले क्रोधवश 
Read More! Earn More! Learn More!