अलमारी का बन्द कोना's image
284K

अलमारी का बन्द कोना

आज सुबह सुबह ही खुल गया

अलमारी का बन्द कोना

जिसमें रखी थी

एक अधूरी मोहब्बत की दास्तान

कुछ अधूरे ख़्याव,कुछ बेकाबू जज़बात

सावन की पहली बारिश का

वो एक भीगा लम्बा

वो कभी न खत्म होने वाला रास्ता

साथ टहले थे,जिसमें हम

आज भी पड़ा है,वो सुनहरा ब्रासलेट

जो अपनी मोहब्बत की निशानी में

तुमने मेरे हाथ में पहनाया था

और ,,वो फोटो

तुमसे नज़र बचाकर

<
Read More! Earn More! Learn More!