किरायेदार's image
1 min read

किरायेदार

Shailesh PalShailesh Pal June 16, 2020
Share0 Bookmarks 245953 Reads0 Likes

आये थे तेरे शहर-ए-अन्जान एक मुसाफ़िर की तरह..

तेरे शहर ने मुझे प्यार दिया अपनो की तरह..


जब भी याद आयी माँ,

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts