साथ दीजिये's image
75K

साथ दीजिये

साथ दीजिए

 

रूठकर दूर हमसे जाने की कोशिश न कीजिए,

मंजिल अपनी तो एक ही है, पाने के लिए साथ तो दीजिए |

 

खुलुश दिल में रखते हैं, जाहिर भी नही करते,

आँखों की बंदिशों से इश्क को रुशवा तो न कीजिए |

 

रश्क दिल को हो जाए ऐसी अदाओं को नुमाया न कीजिए ,

रश्मे उल्फत जब निभा न सको, तो दिल लगाया न कीजिए |

Tag: साथी और1 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!