बातें दिल की's image
101K

बातें दिल की

कुछ कहना है, पर कैसे कहूं,

कैसे अपने दिल की बात बयाँ करूं |

नजरों से जिनकी बात समझता था

उनको दिल-ए- हाल कैसे बयाँ करू |

कहने को तो बातें बहुत हैं सारी,

सोचता हूँ, आज कहाँ से शुरू करू |

Read More! Earn More! Learn More!