गाँव की लड़कियाँ's image
78K

गाँव की लड़कियाँ

गाँव की लड़कियाँ जब भी प्रेम करती है

वो प्रेम मात्र नहीं होता है

उसमे होता है

ललकार - समाज को

दुत्कार - रिवाज को

बगावत - परिवार से 


जब वो बड़ी हो रही होती है 

वो भी घूमना चाहती है 

अपने गाँव से दूर 

किसी अनजान शहर में 

किसी अपने के साथ। 


वो भी चाहती है खत लिखना 

किसी को बगैर बताये 

और चाहती है कि 

पन्नों में ओझल पत्र 

ठिकाने प

Read More! Earn More! Learn More!