दरख़्त (वृक्ष)'s image
74K

दरख़्त (वृक्ष)

किया कुर्बान अपना सब कुछ आपने
दिया हर रंग हमें,  इन्द्रधनुष का , आपने
दिया हर पल हमें ,अपना ,आपने
ख़राब की, ना जाने कितनी नींदें, अपनी आपने
परवाह ना कि किसी पहर की आपने
भरी गर्मी में भी ,दी जो ठंडक ,आपने
सर्द मौसम में ,दी जो गर्माहट प्यार की, आपने
ना जाना, क़, ख़, ग पढ़ना ,फिर भी दी शिक्षा आपने
सिखाया , परिश्रम करना, आपने
सिखाया मेहनत की सीढ़ियों से मंज़िल पाना आपने
सिखाया ज़ज़्बा जीतने का आपने

देखते ही देखते 
तारुणाय से वृद्धत्व का सफर तय कर लिया आपने
ज़िन्दगी के ना जाने कितने, पड़ाव,पार कर लिए आपने
भूलेंगे नहीं कुछ भी ,हम 
Read More! Earn More! Learn More!