परोपकार's image
Share0 Bookmarks 65287 Reads0 Likes

इन बड़े घने वृक्षों को देखो,

इनमें घने पत्ते हैं फूल भी हैं,

फल भी खूब लगते हैं,

क्या हमने कभी सोचा है ?

यह सब दूसरों के लिए परोपकार के लिए,

किसी वृक्ष को स्वयं का फल खाते देखा है,

नहीं ना ! इनका पूरा जीवन ,पूरी पूंजी बस

परोपकार के लिए , दूसरों के लिए ,

यहां तक सुख जाने पर लकड़ी भी ,

जलाने में काम आती है ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts