नाइंसाफ़ी's image
Share0 Bookmarks 220482 Reads0 Likes

तेरा ही दिया हुआ मेरा जीवन,

इतनी नाइंसाफ़ी क्यों ?

हर कदम पर ठोकर दिया तुमने,

मेरे साथ इतनी अदावत क्यों ?

इस जीवन का कोई

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts