जिन्दगी का सफर's image
234K

जिन्दगी का सफर

जिंदगी का सफर"

अपने आप से नाराज हो क्यों,

ए जिंदगी है टेढे मेढे राह से गुजरती है,

कभी कंकड़ पत्थर कांटे होंगे राहों में,कभी फूलों की लडियां बिछी होंगी राहों में,

हर हालात से लडकर ही इंसान आगे बढता है,<

Tag: और2 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!