ज़िंदगी देख's image

गिर गिर कर ही सही

मगर खड़े होते चले

ज़िंदगी देख!

हम कैसे

तेरे एहसानों को

हर रोज़ ढोते चले


रुक रुक कर ही सही

मगर बढ़ते चले

ज़िंदगी देख!

हम कैस

Read More! Earn More! Learn More!