हवा का झोंका's image
277K

हवा का झोंका

क्यों गुज़र जाता है चुपके से आके

ये हवा का झोंका

जीना सिखाता है , बेइंतहा प्यार देता है

पर फिर अकेला क्यों छोड़ जाता है

ये हवा का झोंका

तू ना होता तो क्या होता पता नहीं

हां पर तेरे जाने से मैं कितना बदल गया हूँ

अब मैं समझ नहीं पाता

फिर तू ही बता

तुझे कैसे मैं फिर वापस बुलाऊँ

ऐ हवा का झोंका

क्यों गुज़र जाता है चुपके से आके

ये हवा का झोंका

इतनी ऊमस है अभी भी इस जिंदगी में

पर

Read More! Earn More! Learn More!