तुम और तुम्हारी बातें's image
Poetry1 min read

तुम और तुम्हारी बातें

rashmi bijarniarashmi bijarnia February 10, 2022
0 Bookmarks 59015 Reads0 Likes
तुम और तुम्हारी बातें
तुम्हारी ही तरह प्यारी बातें
झील की तरह ठहरी बातें
जलेबी की तरह टेड़ी बातें
कभ

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts