मोहभंग होने लगा अब's image
74K

मोहभंग होने लगा अब

मोहभंग होने लगा अब
श्वेत श्याम होने लगा सब
ये रंग मंच पात्र ये कथानक 
सभी क्षणभंगुर लगते हैं
गहराती जाती है रात ज्यों
ज्यों दिवस घटते हैं
ज्योति ज्यों ज्यों
घटती जा रही
वस्तुस्थिति त्यों त्यों
स्
Read More! Earn More! Learn More!