चाँद पर शायरी's image
Poetry1 min read

चाँद पर शायरी

Pratimaa SrivastavaPratimaa Srivastava May 4, 2022
Share0 Bookmarks 58143 Reads1 Likes
चाँद पर मेरे कुछ चुनिंदा अशआर...
मुलाहिज़ाملاحظہ ...
.
【१】
मेरी मुहब्बत का चाँद उस दिन खिलेगा,
मन्न

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts