'मेरा वतन मोहब्बतों के नाम हो गया''s image
Love PoetryPoetry1 min read

'मेरा वतन मोहब्बतों के नाम हो गया'

Pradeep Seth सलिलPradeep Seth सलिल January 27, 2023
Share0 Bookmarks 77677 Reads0 Likes

"दुनिया में सबसे आगे हमारा वतन रहे"


बिजली किसी ख़्याल की तड़पा रही है आज,

बादल में तिरंगे को वो फहरा रही है आज,

दुनिया में सबसे आगे हमारा वतन रहे

इसके लिए माँ भारती बुला रही है आज।



शहादत के जो आशिक हैं, नमन् उनको नमन् उनको,

मिटे जो देश की ख़ातिर, नमन् उनको नमन् उनको,

लहू से सींचकर&nb

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts