'गूंज कॉलेज के कोरिडोर की...कुछ ऐसे भी''s image
119K

'गूंज कॉलेज के कोरिडोर की...कुछ ऐसे भी'


"गूंंज-कॉलेज के कोरिडोर की.....कुछ ऐसे भी"



तेरे होने की वज़ह दिल में मुझे न मालूम

पर ये जानूं के कभी तुझसे मैं बावस्ता था।

---

मेरे सदके जो तुझे दिल में बैठा रखा है,

मैने ग़ैरों को भी इज्ज़त से नवाज़ा हरदम।

---

मेरे ख़्वाब

Read More! Earn More! Learn More!