एक शेर's image
Share0 Bookmarks 62403 Reads1 Likes
जब से तार मुहब्बत के मैंने बाँधे हैं तुम से
पूरे जीव

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts