प्रेम की करनी | नितिन कुमार हरित's image
78K

प्रेम की करनी | नितिन कुमार हरित


हरित सुनो, ये प्रेम है, दिव्य, विशिष्ट, विशेष,

मन से मन को जोड़ दे, रूप न देखे, भेष।


हरित सुनो, इस प्रेम की करनी, रूप ना देखे, रंग ना जाने,

मन से मन

Read More! Earn More! Learn More!