कलजुग सब सूखे हरित's image
75K

कलजुग सब सूखे हरित

हरित वाणी : ११ फरवरी २०२३


एक जीवन, एक शर्म जल, एक आंसू की धार,

कलजुग में सूखे हरित, खारा बढ़ा अपार।


कलजुग में सब सूख रहे हैं, जल के उदगम, नदियां, नाले,

<
Tag: avishala और2 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!