दर ब दर आदमी's image
74K

दर ब दर आदमी

दौड़ता भागता दर-ब-दर आदमी,

एक सफर ही रहा उम्र भर आदमी।


कितना नादान है नासमझ आदमी,

छोड़ता घर की खातिर ही घर आदमी।


राह की मुश्किलों से लड़ा आदमी,

आदमी का रह

Tag: Kavishala और1 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!