प्यार :एक ख्वाब's image
98K

प्यार :एक ख्वाब

प्यार :एक ख्वाब


ये याद भी कैसी याद ,

जिस याद में केवल नफरत हो ।

पता नहीं ये प्यार भी कैसा प्यार ,

जिस प्यार में केवल बिछड़ना हो ।



मैं चाहता था प्यार करूगाँ ,

प्यार चाहता था सबक सिखाऊगाँ ।

प्यार तो हुआ ही नहीं , 

पर सबक भी सीख लिया हूँ ।


ना जाने ये तर्पण कैसी थी,

तुमसे प्यार करने का ।

ना जाने ये सोच कैसा था, 

तुमसे बातें  करने का।


सबक भी सीख लिया हूँ ,

अब दूसरे

Read More! Earn More! Learn More!