बारिशें और मोहब्बतें's image
76K

बारिशें और मोहब्बतें

बारिशों के मौसमों  को यूं ही जाया ना कर,

वो जब मिलने बोले तू भी उसे हमसाया कर।


बीत गया जो मौसम तो तू बहुत पछताएगा,

वक्त रहते इश्क को तू भी कभी जताया कर।


दुनियादारी में खुद को यूं मत उलझाया कर,

Read More! Earn More! Learn More!