चुनाव's image
Share0 Bookmarks 13478 Reads0 Likes

बमुश्किल दबे अरमान, 

दिल से निकल आए हैं।

सभी छिपे हुए कोकरोच

बिल से निकल आए हैंll

लफ्जों में तल्खी और,

रिश्तों में तनाव आ गया है।

लगता है फिर से कोई

चुनाव आ गया है

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts