दिल दिमाग की जंग's image
78K

दिल दिमाग की जंग

हमारी कहानी का वह बेदर्द हिस्सा

जब दिल दिमाग से युद्ध कर बैठा था

और जब युद्ध दिल दिमाग

के बीच हो तो बेशक

मसला इश्क का होगा

हर कहानी की तरह

इश्क की दास्तां हमारा

दिल भी रचने लगा था

हलचल सी मचने लगी थी

उसमें किसी अजनबी को देखकर

जब दस्तक दिल में इश्क ने दी

तो रातों की नींद छिनने लगी थी

बेवजह मुस्कुराने की वजह मिल गई थी

उस शख्स के इश्क में डूबी

आंखें हजारों ख्वाब देखने लगी थी

बहक उठा था दिल

केवल उसी को पाने की ज़िद कर बैठा था

लेकिन दिमाग को कहा

दिल का मसला समझ आने वाला था

नादान पागल न जाने क्या-क्या हमारी

मोहब्बत को नाम देने लगा था

दिल उसकी छवि बुनने लगा था

Read More! Earn More! Learn More!