रिश्तों का छलावा's image
239K

रिश्तों का छलावा

*रिश्तों का छलावा*

जब रिश्तों की गांठ -गाठ,

खुल जाती है तब आपस में,

दूरियां बढ जाती हैं,

अपने ही अजनबी से लगते हैं,

रिश्तों की परिभाषा बदल जाती है,

Read More! Earn More! Learn More!