इंसानियत का दुश्मन है वो's image
242K

इंसानियत का दुश्मन है वो



इंसानियत का दुश्मन है वो,इंसानों से जलता है

हाकिम ऐ शहर बड़ी नफरत से हमें कुचलता है


माना लाखों लश्कर हैं उस काफिर के साथ,मगर

हुक्म ऐ इलाही से ही हर जंग का रुख़ बदलता है


वो चिटियां हाथियों को भी मार देतीं हैं काट कर

हकीर समझकर जमाना पैरों से जिन्हें मसलता है


<

Read More! Earn More! Learn More!