हम आदिवासी जंगल को खूब समझते हैं's image
242K

हम आदिवासी जंगल को खूब समझते हैं

तेरे पैंतरे को तेरे दंगल को खूब समझते हैं

हम आदिवासी जंगल को खूब समझते हैं


हाकिम हमें ग्रहों की चाल मे मत उलझा

हम,सूरज,चांद,मंगल को खूब समझते हैं


उससे कहो बीहड़ की कहानियाँ न सुनाए 

चम्बल के लोग चम्बल को खूब समझते हैं


इन्होंने सर्दियाँ गुजारी हैं नंगे बदन रहकर

ये ग

Read More! Earn More! Learn More!