हादसे's image
Share0 Bookmarks 40975 Reads0 Likes

ज़ख्मों का हिसाब क्या रखना

दोस्तों से किनारा कर लीजिए


दिल फिर भी धड़के सीने में

धड़कनों को ही बहला दीजिए <

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts