आभा's image
Share0 Bookmarks 63297 Reads0 Likes

शाम के आगोश में

सुबह समा रही है

शशि की आभा समेटे

निशा आ रही है


No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts