235.आगे जो बदलने वाला है - कामिनी मोहन।'s image
78K

235.आगे जो बदलने वाला है - कामिनी मोहन।

आगे जो बदलने वाला है,
और जो धीरे-धीरे बदल गया है।
हर कारण, हर आशा को,
पूरा जीवन परखता गया है। 

सपने जो मैंने देखे,
भविष्य ने उसे क़ैद किया।
संरेखित वास्तविकता में,
संरेखण का अनुभव किया। 

दुख-ताप की शोकसंतप्
Read More! Earn More! Learn More!