माँ की साड़ी's image
95K

माँ की साड़ी

माँ की साडी में महक भीनी भीनी सी जैसी माँ सी

हर सिलवट में सालों से संजोये हुए कूछ कूछ उसके प्यार जैसी।

पीली गुलाबी हरियाली सी हर रंग के भावों से खिल खिलाती

उसकी डांट, झूठमुठ का गुस्सा और सागर सा प्यार मुझपे लहराती।

आँचल के कोने में न जाने कैसा जादू बाँधे रखती

धूप को छनती, फुहारों को टोकती और ठंडी बयार को अप

Tag: oetry और6 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!