तीन साथी's image
Share0 Bookmarks 10519 Reads0 Likes

अकेलेपन में रहने का
मजा ही कुछ और है !

अकेले रोना ,
अकेले हँसना ,
खुद से बातें करना ,
अपनी यादों को सँजाना  ,

न सबके सामने रो सकते है
न सबके सामने हँस सकते है
न खुद से बातें कर सकते है
न अपनी यादों को सँजो सकते है ।

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts