युँ न गुजरा करो ऐ सनम's image
75K

युँ न गुजरा करो ऐ सनम

युँ न गुजरा करो ऐ सनम

इस तंग दिल के गलियारे से,

तुम्हारे आने से ये गुलिशतां फिर से खिल उठते है,

जो है अगर अब भी मोहब्बत हमसे,

आकर इज़हार ऐ इश्क़ फिर से कर भी दो,

तड़पाओ

Tag: poetry और2 अन्य
Read More! Earn More! Learn More!