तुम मुझे कभी दिल से कभी आँखों से पुकारो,
ये होठों के तकल्लुफ तो ज़माने के लिए होते हैं।

- Gajendra  sharma's image
81K

तुम मुझे कभी दिल से कभी आँखों से पुकारो, ये होठों के तकल्लुफ तो ज़माने के लिए होते हैं। - Gajendra sharma

हर चीज़ "हद" में अच्छी लगती हैं,
मगर तुम हो के "बे-हद" अच्
Read More! Earn More! Learn More!