मेरी आरज़ू...'s image
Share0 Bookmarks 80403 Reads0 Likes

बात भी की सूरत भी दिखाई,

इससे ज्यादा आरज़ू भी न थी।

<

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts