मुझे कुछ कहना है.... 's image
76K

मुझे कुछ कहना है....

हमने यही पढ़ा ..... किताबों में ,

यही सुना......कहानी कहावतों में ,

है नारी -अबला- सुकोमल - कोमलांगी,

है आंचल में दूध और आंख में पानी |



पर क्यों भूलाया … तुमने इतिहास ,

करते देवगन भी  …मेरा गुणगान ,

मैं ही भोग्या…..मैं ही भवानी,

बिन मेरे जग की… .. अधूरी कहानी |



नहीं बुद्धिबल में….कमतर तुमसे ,

है तुम सम ज्ञान….प्रकाश पुंज मुझमें ,

क्या भुल गये  विदुषी भारती का ज्ञान,

जिसने शास्त्रार्थ में….. शंकराचार्य को किया परास्त |



नहीं हठ में ....मेरी कोई सानी ,

होनी को ......अनहोनी कर मानी ,

मैं ही हूं… वो हठधर्मी सावित्री ,

जिससे यम ने भी आखिर … हार मानी |



Read More! Earn More! Learn More!