क्यों मारते मुझे कोख में?'s image
National Girl Child DayPoetry1 min read

क्यों मारते मुझे कोख में?

Bharat SinghBharat Singh January 24, 2023
Share0 Bookmarks 58331 Reads1 Likes

मैं बेटी हूं

कमजोर नहीं

अपने पैरों पर खड़ी हूं

मैं जननी हूं, बहन हूं, बीवी हूं

निभाती रिश्ते आजीवन निस्वार्थ भाव से

मैं शक्ति हूं

हर रिश्ते का आधार हूं

जो मेरा सम्मान करता

जीवन में हर ऊंचाई छूता

जहां होता मेरा अनादर

सुनिश्चित उनका नाश होता

क्यों मारते मुझे कोख में?


मैं बेटी हूं

मैं कर्मठ हूं

समाज के लिए लड़ी हूं

शिक्

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts