दीपांशी का ननिहाल's image
75K

दीपांशी का ननिहाल

नाना हमारे फौजी हैं

मन के बड़े मौजी है

बच्चों से बड़ा प्यार करते

मनभावन ननिहाल हमारा

अरावली के पहाड़ों की

तलहटी में बसा गांव प्यारा 

बसंत ऋतु में जब सरसों के फूल खिलते

लगता धरती मां ने सोने की चुनर ओढ़ ली 

राजमार्गों का वहां जाल बिछा है 

यातायात वहां सुगम बड़ा है

बहती वहां विकास की बयार 

Read More! Earn More! Learn More!