पागलखाना's image
Share0 Bookmarks 64646 Reads0 Likes
सबकी अपनीअपनी दिलकश माशुकाएँ है,
मगर किसी की सूरत तुम्हारे जैसी नही है।

<

No posts

Comments

No posts

No posts

No posts

No posts