वो हम से अलग है!'s image
80K

वो हम से अलग है!

ग़ालिब को सुनती है,
गुलज़ार लिखती है,
सादगी में भी वो,
चाँद सी चमकती है!

शहर की चकाचौंध से,
कहीं दूर घर है उसका,
सुकूत रातों में,
उसका दर महकता है।
Read More! Earn More! Learn More!