प्रश्न मेरा लाज़मी है देश की सरकार से - अनुराग अंकुर की इंकलाबी कविता's image
73K

प्रश्न मेरा लाज़मी है देश की सरकार से - अनुराग अंकुर की इंकलाबी कविता

शांति का संदेश देने के लिए आया नहीं
झूठ का जयघोष करने के लिए आया नहीं
क्यों घुट रहा है लोकतंत्र इस जहाँ में चीखकर
मैं यहाँ उपदेश देने के लिए आया नहीं
कितने कट और मर रहे हैं रेल और रोजगार से
प्रश्न मेरा लाज़मी है देश की सरकार से।

क्यों यहाँ इंसान डरता है किसी इंसान से
अब कोई उस्मान डरता क्यों किसी हनुमान से
गंगा और जमुना की धारा वाली इस तहज़ीब में
क्यों कोई भी राम डरता है किसी रहमान से
मज़हबी उन्माद वाले चोर ठेकेदार से
प्रश्न मेरा लाज़मी है देश की सरकार से। 

हर तरफ फैला हुआ बस झूठ का व्यापार
Read More! Earn More! Learn More!